Saturday, February 24, 2024
Homemarket newsइस सेक्टर में आने वाली है जोरदार तेज़ी, जाने किन शेयरों में...

इस सेक्टर में आने वाली है जोरदार तेज़ी, जाने किन शेयरों में होगी शानदार कमाई

साल 2022 FMCG कंपनियों के लिए काफी मुश्किल भरा साल रहा है। इस साल FMCG कंपनियों को दो मोर्चों पर एक साथ लड़ना पड़ा। कच्चे माल की ऊंची कीमतों और खाद्य महंगाई ने FMCG कंपनियों के लिए पहले से ही चुनौतियां खड़ी कर रखी थीं। इसी में ग्रामीण क्षेत्रों की मांग में आ रही गिरावट ने हालात और बुरे बना दिए। इससे FMCG कंपनियों के सिर्फ वॉल्यूम पर ही असर नहीं पड़ा। बल्कि इनके ऑपरेटिंग मार्जिन पर भी दबाव बना। बढ़ती लागत से निपटने के लिए FMCG कंपनियों ने दाम बढ़ाने के साथ ही वजन कम करने का उपाय भी अपनाया। इसके साथ इनके विज्ञापन खर्च में भी कटौती होती दिखी।

हालांकि अब इस सेक्टर में फिर से तेजी आने के शुरुआती संकेत दिखने शुरू हो गए हैं। साल 2023 में ये सेक्टर मुश्किलों को पार करके फिर से तेजी पकड़ता दिख सकता है। अच्छी फसल और इसकी अच्छी कीमत मिलने की संभावना के चलते आगे हमें ग्रामीण मांग में तेजी देखने को मिल सकती है। इसके साथ हीं महंगाई कम होने के साथ ही हमें वॉल्यू में भी ग्रोथ देखने को मिल सकती है। वॉल्यूम बढ़ने के साथ ही आगे हमें एफएमसीजी कंपनियों के मार्जिंन में भी सुधार दिखेगा।

यह भी पढ़े :- आने वाले 5-6 साल में भारतीय बाजार कर सकते है पैसा डबल, क्या आपने किया इन सेक्टरों में निवेश ?

2023 एफएमसीजी कंपनियों के लिए रहेगा अच्छा

मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि साल 2023 के आगे बढ़ने के साथ ही ग्रामीण मांग में अच्छी तेजी देखने को मिलेगी। वहीं, शहरी मांग में भी तेजी कायम रहेगी। वॉल्यूम में अच्छी ग्रोथ देखने को मिलेगी। इससे भी बड़ी बात ये है कि इस सेक्टर के मार्जिन में सुधार होगा।

जापानी ब्रोकरेज हाउस नोमुरा ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में नौकरियों के लिए बेहतर माहौल और विकास पर सरकारी खर्च से भी ग्रामीण मांग में बढ़त में मदद मिलेगी। “मनरेगा नौकरियों की मांग कम हो रही है और यह महामारी-पूर्व के स्तर से थोड़ा ही ऊपर है, जिसका अर्थ है कि बेहतर भुगतान वाली नौकरियां उपलब्ध हैं। चूंकि 2023 आम चुनाव से पहले का वर्ष है, इसलिए हम उम्मीद करते हैं कि सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए पर्याप्त खर्च का प्रावधान करेगी”।

नोमुरा के एनालिस्टों को एफएमसीजी सेक्टर की ऐसी कंपनियां पसंद हैं जिन्होंने इस मुश्किल भरे समय में डिस्ट्रीब्यूशन, डिजिटल क्षमता और नए लॉन्च में निवेश किया है और जिनके पास हाई प्राइसिंग पावर है। नोमुरा की राय है कि उत्पादन लागत में कमी के साथ ही मार्जिन के मोर्चे पर जिन कंपनियों को ज्यादा बढ़त मिलने वाली है इनपर निवेश के नजरिए से नजर रखे। नोमुरा की कहना है कि इस चुनौतीपूर्ण समय में जिन कंपनियों ने अपने बिजनेस मॉडल को बेहतर बनाया है, आगे उनमें अच्छी ग्रोथ दिखेगी।

यह भी पढ़े :- Bank Privatization: बिग ब्रेकिंग न्यूज, SBI, PNB और BOI सहित कई बैंक होंगे प्राइवेट? नीति आयोग ने जारी की लिस्ट

नोमुरा ने Britannia में 5200 रुपए के लक्ष्य के लिए, Hindustan Unilever में 3175 रुपए के लक्ष्य के लिए, Godrej Consumer Products में 1,050 रुपए के लक्ष्य के लिए और Dabur में 715 रुपए के लक्ष्य के लिए खरीदारी की सलाह दी है।

Spread the love
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments