Sunday, April 21, 2024
Homemarket newsINDIGO Result Quatar 2 : दूसरी तिमाही में हुआ इंडिगो को 1583...

INDIGO Result Quatar 2 : दूसरी तिमाही में हुआ इंडिगो को 1583 करोड़ का नुकसान जाने क्यों

IndiGo Q2 Result- इंडिगो ब्रांडनाम से कारोबार करने वाली Interglobe Aviation ने आज यानी 4 नवंबर को 30 सितंबर 2022 को खत्म हुई वित्त वर्ष 2023 की दूसरी तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए है। इस अवधि में कंपनी को 1,583.33 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। गौरलतब है कि वित्त वर्ष 2023 की दूसरी तिमाही में सालाना आधार पर कंपनी के घाटे में बढ़ोतरी देखने को मिली है। वित्त वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही में कंपनी को 1,435.65 करोड़ रुपया का घाटा हुआ था। कंपनी के घाटे में तिमाही आधार पर भी बढ़ोतरी देखने को मिली। वर्तमान वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी को 1,064.26 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

दूसरी तिमाही में कंपनी की आय सालाना आधार पर 122% की बढ़त के साथ 12,497.58 करोड़ रुपये पर रही है। जबकि पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी की आय 5,608.49 करोड़ रुपये रही थी।

इस सरकारी कंपनी ने तोड़ा 5 साल का रिकॉर्ड सिर्फ 4 महीने में आई है 93% की तेजी

सितंबर तिमाही में कंपनी की EBITDAR 1.8% की मार्जिन के साथ 229.2 करोड़ रुपये पर रही है जबकि पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में कंपनी की EBITDAR 6.1% की मार्जिन के साथ 340.8 करोड़ रुपये पर रही थी।

Indigo ने आज जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि एयरलाइंस की क्षमता में 75% की बढ़त हुई है । जबकि इस अवधि में पैसेजरों की संख्या में सालाना आधार पर 5.9% की बढ़त हुई है और यह 1.97 करोड़ पर पहुंच गई है। कंपनी ने यह भी बताया है कि सितंबर तिमाही में कंपनी की यील्ड में 21.0% की बढ़ोतरी देखने को मिली है और यह 5.07 रुपये पर पहुंच गई है जबकि गुड फैक्टर 8 अंकों की बढ़त के साथ 79.2% पर रहा है।

निवेशकों को Bonus Share देगी यह कंपनी, इस साल अब तक 45% गिर चुका है stock

इंडिगो के सीईओ Pieter Elbers ने कहा है कि एयरलाइंस के इंटरनेशनवल ऑपरेशन में तिमाही आधार पर 20% की बढ़ोतरी देखने को मिली है। उन्होंने ये भी कहा है कि भारत के घरेलू बाजार में pricing पर लागू नियम के कारण सिग्नल Goods से कमजोर रहने वाले दूसरी तिमाही में भी कंपनी के revenue को support मिला है।

कंपनी के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर गौरव नेगी ने कहा है कि वित्त वर्ष 2023 में कंपनी के पैसेंजर लोड में सालाना आधार पर 25% की बढ़त की उम्मीद है। कंपनी ने CEO ने यह भी कहा है कि डॉलर के मुकाबले रुपये की कमजोरी और ATF की ऊंची कीमतें आगे कंपनी के Growth के लिए बड़ी चुनौती बनी रहेगी।

Spread the love
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments