Wednesday, February 28, 2024
Homemarket newsबजट के बाद इन 6 सेक्टर में आ सकती है बड़ी रैली,...

बजट के बाद इन 6 सेक्टर में आ सकती है बड़ी रैली, मिल चुके है संकेत, इस बार मौका मत चूक जाना?

देश में बजट 2023 (Budget 2023) को लेकर तैयारियां हो रही है. बजट की घोषणा से पहले स्टॉक मार्केट के ऐसे कौन से सेक्टर हैं जहां पर बजट का असर पड़ सकता है. इस असर के बारे में मार्केट के एक्सपर्ट हेमंत सूद (Hemant Sood) से जानेंगे आपको बता दें कि एक्सपर्ट सूद फिनडॉक (Findoc) के फाउंडर है. उन्होंने पहले पेश किए गए बजट को ध्यान में रखकर 6 ऐसे सेक्टर चुने हैं. जिस पर बजट का असर दिख सकता है.

1.नवीकरणीय ऊर्जा

भारत की सरकार वर्ष 2030 के अंत तक करीब 500 गीगावॉट का नवीकरणीय ऊर्जा की उत्पादन और ट्रांसमिशन करना चाहता है. जिस को ध्यान में रखकर सरकार कई सारे ईपीसी प्रोजेक्ट पर फोकस कर रहा है. इसके अलावा सरकारी समर्थन देकर नवीकरणीय ऊर्जा बढ़ाने का प्रयास कर रहा है. सारा विश्व जानता है सभी देशों को अब वैकल्पिक इंधन एक समस्या है जिसको छोड़कर के नवीकरणीय ऊर्जा की ओर बढ़ना हैं. आपको बता दें कि भारत नवीकरणीय ऊर्जा वर्ष 2014 के मार्च में करीब 76.4 गीगावॉट था अब बढ़कर दिसंबर 2021 में वह 151.4 गीगावॉट हो गया है.

2.ऑटोमोबाइल क्षेत्र


एक्सपर्ट सूद मानते हैं कि साल 2023 ऑटोमोबाइल सेक्टर के लिए बेहतर हो सकता है. इस सेक्टर से जुड़े हुए कई कंपनियां जैसे कि टाटा मोटर्स (Tata Motors), हीरो होंडा (Hero Honda) फायदा उठाती देख सकती हैं. एक्सपर्ट का मानना है कि इस सेक्टर का इलेक्ट्रिक व्हीकल ऐसा सेगमेंट है जो इस समय काफी अधिक तेजी से उठ रहा है. आंकड़ों में बात की जाए तो वित्तीय वर्ष 2021 में करीब 134821 Unit कमाल भेजा था वहीं साल 2022 के दौरान यह आंकड़ा 429217 Unit पर पहुंच गया है.

3.चीनी क्षेत्र


वर्ष 2023 में चीनी इंडस्ट्री भी काफी अधिक ध्यान खींचने वाला सेक्टर बना रह सकता है. दरअसल एक्सपर्ट का मानना है कि भारत सरकार के कदम की वजह से यह सेक्टर काफी अधिक आकर्षक बन गया है. पर्यावरण से जुड़े मुद्दे को ध्यान में रखकर साथ ही ईंधन आयात की निर्भरता को कम करने जैसे पहलुओं को ध्यान में रखकर भारत की सरकार इथेनॉल मिक्स पेट्रोल प्रोग्राम को बढ़ावा दे रही हैं.

यह भी पढ़े :- सिर्फ 3 साल में दिया है 2440% का रिटर्न्स, दिग्गज लगा रहे अभी भी दांव, आप भी करे अपने पोर्टफोलियो में शामिल


4.बैंकिंग


अगले सेक्टर के तौर पर उन्होंने बैंकिंग सेक्टर को पसंद किया है उनका मानना है कि जिस तरीके से बैंक में क्रेडिट ग्रोथ बढ़ रही है. उस वजह से यह सेक्टर काफी अधिक आकर्षक होता जा रहा है. आंकड़ों पर नजर डाले तो वित्त वर्ष 2022 तक देश में कुल क्रेडिट 1532.31 बिलियन डॉलर के करीब पहुंच गया है. उम्मीद की जा रही है कि आने वाले वर्षों में क्रेडिट ग्रोथ का आंकड़ा 10 प्रतिशत के डबल डिजिट को टच कर सकता है. इसके अलावा भारत का फिनटेक बाजार भी 2025 तक 6.2 ट्रिलियन रुपए टच कर सकता हैं.

5.एफएमसीजी


एक्सपर्ट मानते हैं कि साल 2023 के दौरान देश में कृषि की दुनिया से अच्छी खबर आ सकती है. अच्छे फसल उत्पादन की वजह से गांव के इलाकों के मांग में सुधार होता हुआ दिखेगा. जिसकी वजह से FMCG उत्पादों में बिक्री बढ़ने की संभावना होगी. असल में एफएमसीजी सेक्टर का एक बहुत बड़ा राजस्व भारत की ग्रामीण इलाकों से ही आता है. अगर इस राजस्व में सुधार होता है तो एफएमसीजी सेक्टर के लिए खुशखबरी होगी. क्रिसिल के एक आंकड़े के मुताबिक 2022 और 2023 में एफएमसीजी की कुल सेल में 7 से 9% राजस्व बढ़ने की उम्मीद है.

यह भी पढ़े :- Multibagger Stocks: इस कॉफी कंपनी ने सिर्फ 36 हजार के निवेश पर बना दिया करोड़पति, अभी बाकी है बंपर कमाई का मौका


6.आईटी


एक्सपर्ट सूद मानते हैं कि आने वाले समय में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ऐसे इंडस्ट्री में शामिल हो सकता है जो सबसे अधिक विकासशील होगा आपको बता दें कि फिलहाल भारत में आईटी इंडस्ट्री के अंदर काफी अधिक आईटी से जुड़े हुए सेवाओं, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की आवश्यकता है. वर्ष 2023 के दौरान उम्मीद है कि आईटी सेक्टर में करीब तीन लाख नौकरियां पैदा हो सकती हैं.

शेयर बाजार से जुडी डेली अपडेट पाने के लिए हमारे ग्रुप को ज्वाइन करे join now

Spread the love
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments